समाचार संग्रह

स्वामीजी जयपुर में

विश्वगुरु महामण्डलेश्वर परमहंस स्वामी महेश्वरानंद जी महाराज दिनांक ८ जुलाई को जयपुर स्थित श्री ॐ विश्वगुरु दीप आश्रम, श्याम नगर में विदेशी भक्तों के साथ पधारे।  आश्रम में उन सबका भक्तों द्वारा स्वागत किया गया।
 
श्री विश्वगुरु ने अपने सांयकालीन प्रवचन में गुरु पूर्णिमा पर प्रकाश डाला कि आज्ञा पालन से विवेक का विकास होता हैं अपने अहंकार ओर अहम् जनित भ्रमों से ऊपर उठने के लिए मनुष्य को अपने से उच्चतर ज्ञान का आज्ञा पालन सीखना चाहिए।
 

स्वामीजी टीवी के लिए Android app उपलब्ध है

Swamiji TV logo1अब आप स्वामीजी टीवी अपने स्मार्ट फोन पर देख सकते हैं। इस लिंक पर क्लिक कीजिए या अपने फोन पर Google Play में खोजिये।

https://play.google.com/store/apps/details?id=org.yidl.SwamijiTV

 

 

आबूनाथ अवधूत अभ्यास अनुभूति अमृत बिंदु क्रिया

 ज्ञान के लिए एक पवित्र क्रिया जो स्वामीजी के द्वारा पहली बार प्रस्तुत की गई है।

यह सबसे शक्तिशाली क्रिया  हमें महान संतों से प्राप्त है । हमारे श्री  देवपुरीजी स्वयं भगवान शिव है  और  उनकी महिमा हजारों नामों में है । आबूनाथ अवधूत, आबू पर्वत के नाथ है। श्री देवपुरीजी निर्भय अवधूत संन्‍यासी, जीवनमुक्त के रूप में प्रसिद्ध है। । स्वयं ब्रह्मा और विष्णु ऐसे महान् योगियों की सेवा में रह्ते  हैं। हमारा अभ्यास उनकी अनुभूति  है। हम को अभ्यास करके उस अनुभव तक पहुँचना है जो अमृत बिंदु  कहलाता है।

तो आबूनाथ-अवधूत -अभ्यास-अनुभूति-अमृत-बिंदु क्रिया- ये सब पूरा पता और नाविक है जो उस गंतव्य की ओर ले जाता है, जहाँ आप सुख पाएंगे।