आबुनाथस्वामी अबधूत विश्वगुरु महामण्डलेश्वर परमहंस श्री महेश्वरानन्द पुरीजी, पंचायती महानिर्वाणी अखाड़ा

मैं जो भी कहता हूं वह महाप्रभुजी के ही शब्‍द हैं । वेदों और उपनिषदों में जो कहा गया है वह महाप्रभुजी ने कहा है । मेरी इच्‍छा आप सब को केवल शरीर से ही स्‍वस्‍थ व सुन्‍दर बनाने की नहीं है, मैं तो आपको जन्‍म मरण के बन्‍धन से ही छुटकारा दिलाना चाहता हूँ । मेरा प्रयास आपके समस्‍त कर्मों को ही काट देने का है । मैं उस सबसे बडे वकील से आपकी वकालत कर रहा हूं और करता रहूंगा कि जब आप इस संसार से जाएं तो आप खाली हाथ न जायें उस समय आपके साथ असली ज्ञान की ज्‍योति भी हो जो आपको परम प्रभु से मिला दे ।

July 2014

स्वामीजी टीवी के लिए Android app उपलब्ध है

Swamiji TV logo1अब आप स्वामीजी टीवी अपने स्मार्ट फोन पर देख सकते हैं। इस लिंक पर क्लिक कीजिए या अपने फोन पर Google Play में खोजिये।

https://play.google.com/store/apps/details?id=org.yidl.SwamijiTV

 

 

June 2014

आबूनाथ अवधूत अभ्यास अनुभूति अमृत बिंदु क्रिया

 ज्ञान के लिए एक पवित्र क्रिया जो स्वामीजी के द्वारा पहली बार प्रस्तुत की गई है।

यह सबसे शक्तिशाली क्रिया  हमें महान संतों से प्राप्त है । हमारे श्री  देवपुरीजी स्वयं भगवान शिव है  और  उनकी महिमा हजारों नामों में है । आबूनाथ अवधूत, आबू पर्वत के नाथ है। श्री देवपुरीजी निर्भय अवधूत संन्‍यासी, जीवनमुक्त के रूप में प्रसिद्ध है। । स्वयं ब्रह्मा और विष्णु ऐसे महान् योगियों की सेवा में रह्ते  हैं। हमारा अभ्यास उनकी अनुभूति  है। हम को अभ्यास करके उस अनुभव तक पहुँचना है जो अमृत बिंदु  कहलाता है।

तो आबूनाथ-अवधूत -अभ्यास-अनुभूति-अमृत-बिंदु क्रिया- ये सब पूरा पता और नाविक है जो उस गंतव्य की ओर ले जाता है, जहाँ आप सुख पाएंगे।

 

June 2014

हंगरी के वेप में स्वामीजी का समर सेमिनार

यूरोप के उत्‍तरी क्षेत्र की गर्मी की ऋतु में आयोजित रिहाइशी योग सम्‍मेलनों में स्‍वामी जी बहुत सालों से अनगिनत बार अध्‍यात्‍म के विषय में शि‍क्षा देते रहे हैं । साथ ही साथ योगासन भी करवाते रहे हैं । और अब २०१४ का दैनि‍क जीवन में योग के ग्रीष्‍म सम्‍मेलन इस सप्‍ताह वेप, हंगरी में शुरू हो गये हैं।